Wednesday 20 October 2010

लतीफ़े

कभी लतीफ़े ही भेज दिया करो,
इस बहाने मेरा नाम आपके
षमने तो आएगा!

No comments:

Bookmarking

Bookmark and Share